Monday, June 20, 2011

जरुरी नहीं टिप्पनी देना, परन्तु पढ़ना और ध्यान देना जरुरी


जीवन की सफलता-सदैव उद्देश्य पर दृष्टी

जीवन में सफल होने के लिए उद्देश्य का होना बहुत जरूरी है। बिना
 उद्देश्य के इंसान सिर्फ भटकता और गुमराह होता है। उसकी ऊर्जा और श्रम व्यर्थ चले जाते हैं। उसे न मार्ग पता होता है, न मंजिल। सफलता की प्राप्ति के लिए उद्देश्य को निर्धारित करना अति आवश्यक है। क्योंकि जिस व्यक्ति को अपनी मंजिल का पता नहीं उसे मार्ग या दिशा का क्या पता होगा? इसलिए जीवन जीने का एक उद्देश्य निर्धारित करें। उसी अनुसार अपनी योजनाएं बनाएँ तथा अपनी दिनचर्या व कार्यप्रणाली तय करें।
       समय का सदुपयोग करें:- उद्देश्य को सिर्फ नाम के लिए ही तय न करें। उस पर संजीदगी से कार्य भी करें, यानि उसे पाने के लिए मेहनत करें। उसे पूरा वक्त दें, टाइम टेबल बनाएँ, उस पर अमल करें तथा अधिक से अधिक समय अपने उद्देश्य को दें।
        चुनौतियों का स्वागत करें :-संघर्ष जीवन का दूसरा नाम है, इसलिए जहां सपने हैं, वहां चुनौतियाँ भी हैं। जहां चुनौतियाँ हैं वहां कठिनाईयां भी होंगी। इसलिए आगे बढ़ने के लिए मार्ग के कांटे और व्यवधानों से घबराएं नहीं अपितु उनका डटकर सामना करें। सफलता आपके पांव चूमेगी।

3 comments:

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

Achche khayal...Achche vichar ...Sunder skaratmak post...

Patali-The-Village said...

सही लिखा है चुनौतियों से घबराने के बजाय उन से मुकाबला करना चाहिए|

merevichaar said...

Good