Thursday, March 10, 2011

हल्दी है हेल्दी

हल्दी सिर्फ सब्जी बनाने के दौरान ही यूज नहीं होती है , बल्कि इसके और भी बहुत सारे फायदे हैं। चलिए आपको हल्दी के फायदों से रूबरू करवाते हैं।

नेचरल पावरफुल हीलर है , जिसमें मैग्नेशियम , पौटेशियम , आयरन , विटामिन बी 6 सी , ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड हैं।

दरअसल हल्दी एक एंटीसेप्टिक वाले सभी गुण मौजूद हैं। ऐसे में इसे आप चोट लगने या कटने की स्थिति में स्किन पर लगा सकते हैं। इससे आप इंफेक्शन को अवॉयड किया जा सकता है।

अगर आपके पेट में दर्द है , तो उसे दूर करने के लिए भी आप हल्दी ले सकते हैं। इससे आपके पेट दर्द को आराम मिलेगा। बाउअल सिंड्रोम की स्थिति में खाना ठीक से डाइजेस्ट नहीं हो पाता है। ऐसे में आप थोड़ी - सी हल्दी लेकर इस पेन से रिलीफ पा सकते हैं।

हल्दी डिजेनरटिव डिजीज जैसे अल्जाइमर्स में भी कारगर है। इससे रक्त कोशिकाओं में खून का प्रवाह सही बना रहता है।

अगर आप रोजाना दूध के साथ थोड़ी - सी हल्दी लेते हैं , तो इससे आपकी हड्डियां मजबूत होती हैं और यह ऑस्टियोपोरोसिस से भी बचाव करता है।

आप हल्दी और बेसन का पेस्ट बना लें और इसे अपनी बॉडी पर लगाएं। जब यह हल्का सूख जाए , तो इसे हाथ से रगड़कर छुटा दें। फिर गुनगुने पानी से धो दें। इससे आपकी स्किन क्लीन ग्लो करने लगेगी।

चूंकि हल्दी एक एंटी - इनफ्लैमटॉरी है। ऐसे में यह आर्थराइटिस को कम भी करता है। इससे स्किन संबंधी प्रॉब्लम को भी काफी हद तक रोका जा सकता है।

हल्दी एक बहुत ही बेहतरीन एंटीऑक्सिडेंट है , जो कैंसर को भी कंट्रोल करता है।

अगर आप अपनी डाइट में हेल्दी लेते हैं , तो यह आपके मेटाबॉलिज्म को स्ट्रॉन्ग बनाता है और आपके
वजन को भी कंट्रोल करता है। यह ब्लड प्यूरीफायर भी है।

हल्दी कॉलेस्ट्रोल को कम करता है , जिससे आप कई प्रकार की बीमारियों से भी बच सकते हैं।

यह इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग बनाता है। इससे आपकी अंदरूनी चोटों में भी फायदेमंद है , जिसमें लिवर किडनी खास है।

2 comments:

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

Bahut Badhiya Jankari.... Abhar

अन्तर सोहिल said...

हिन्दी लेखन में सुधार आ रहा है जी, बधाई हो